Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua 2024

अस्सलाम वालेकुम, उम्मीद करती हूं आप सब अच्छे होंगे। आप सभी जानते हैं कि रमजान का महीना है। इसलिए आज मैं आपको ramadan ke teesray ashray ki dua की दुआ बताऊंगी।

पिछले कुछ आर्टिकल्स में मैंने आपको रमजान के पहले और दूसरे अशरे की दुआ बता दी थी।

सिर्फ चंद दिनों के अंदर रमजान कातीसरा अशरा शुरू हो जाएगा , रमजान एक बहुत ही बेहतरीन और फजीलत और रहम से भरा हुआ महीना है ।

Ramadan 2024 में पहला रोज़ा 12 मार्च , Tuesday का है ।

Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua

ramzan ke teesre ashre ki dua :

मैने आपको अपनी कुछ आर्टिकल्स में पहले और दूसरे अशरे की दुआ बताई है जिसे आप मफरत के लिए दुआ कर सकते हैं।

अब मैं बात करूंगी Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua के बारे में।

तीसरी अशरे की बहुत ही खास फजीलत होती है जिसमें कई ऐसी कई खास रातें आती हैं जिसमे इबादत करना कई करोड़ और कई लाख इबादतों के मुकाबले होता है।

इन रातों के अंदर अल्लाह ताला किसी के भी , किसी जायज दुआ को नहीं टालते हैं। इन रातों के बारे में आपको मैं अपने आने वाले आर्टिकल्स में बताऊंगी।

फिलहाल में बात करूंगी रमजान के तीसरे अशर की दुआ के बारे में।

रमजान के अशरे में पढ़े जाने वाली दुआ जहन्नुम के आजाब से बचने के लिए पढ़ी जाती है।

जहन्नम का अजाब बहुत ही खतरनाक और बहुत ही ज्यादा दर्दनाक होगा। तो उसे अज़ाब से बचने के लिए यह दुआ पढ़नी जरूरी है।

ramzan ke teesre ashre ki dua in arabic :

रमजान के तीसरे अशर की दुआ अरबी में कुछ इस तरह है :

ramzan ke teesre ashre ki dua

ramadan ke teesray ashray ki dua in hindi :

रमजान के तीसरे और आखिरी आश्रय में पढ़ी जाने वाली यह दुआ हिंदी में कुछ इस तरह से है :

ramadan ke teesray ashray ki dua in hindi

Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua in english :

आखरी और तीसरे अशरे की दुआ रमजान में इंग्लिश में कुछ इस तरह से है :

ramadan 3 ashra dua ki fazilat :

रमजान तीसरी अशरे में पढ़े जाने वाली यह दुआ इतनी ज्यादा खास है कि आप सोच भी नहीं सकते।

जो भी बंदा इस दुआ को रमजान के आखिरी अशरफ यानी की 21 से लेकर 30 रोज तक इसको पड़ेगा अल्लाह ताला उसके ऊपर जहन्नुम का अजाब नहीं डालेंगे।

यह दुआ अपने आप में काफी ज्यादा फजीलत रखने वाली दुआ है। इस दुआ को पढ़ने वाला जहन्नुम के आजाब से फारिग रहेगा।

जहन्नुम की आग और जहन्नुम का सर्द अजाब दोनों ही इस दुआ के पढ़ने वाले को नहीं छू सकते।

जो भी इस दुआ को दिल से पड़ता है अल्लाह ताला इसकी गुनाहों को माफ फरमाएगा और उसे जहन्नम के हिसाब से महफूज रखेगा।

ramzan ke teesre ashra ki dua ka tarjuma :

रमज़ान के तीसरे अशरे में पढ़े जाने वाली इस दुआ का तर्जुमा कुछ इस तरह से है :

ramzan ke teesre ashra ki dua ka tarjuma

ramzan ke teesre ashre ki dua ka tarjuma in english

अगर हम इस Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua का तर्जुमा इंगिल्श यानी अंग्रेजी में जाने तो यह होगा :

ramzan ke teesre ashre ki dua ka tarjuma in english

Conclusion :

दोस्तों मैं आपको अपने इस आर्टिकल में ramadan ke teesray ashray ki dua के बारे में सभी मुमकिन जानकारी देने की कोशिश की है।रमजान में ये दुआ पढ़ने की ज्यादा से ज्यादा कोसिस करे , रमजान में जितनी भी दुआ या आप अल्लाह को याद करेंगे उतना ही आप आपकी की दुआ कबूल होगी।

ताकि आप जहन्नम के अजाब से बना मांग सके। दुआओं में याद रखें , सभी रमजान में रोजे रखे और iftar ki dua पढ़कर ही रोजा इफ्तार करे , आमीन।

अगर आप इस आर्टिकल Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua से रेलेटेड या इस दुआ के बारे में और कुछ जानना चाहते है तो मुझे कमेंट कर सकते है आपका जवाब देने की में पूरी कोशिश करुँगी।

फि अमान अल्लाह !

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

5 thoughts on “Ramadan ke Teesray Ashray ki Dua 2024”

Leave a Comment