Wuzu Ki Dua | Wuzu ki Dua in Hindi 2024

Assalamualaikum, अल्लाह के फजलों करम से आप सभी अच्छे होंगे । आज में अपने आर्टिकल में बात करूंगी wuzu ki dua के बारे में ।

वजू के बिना नमाज अधूरी है । बल्कि वजू के बिना नमाज कुबूल ही नही है । आपको पाकी ही आपका आधा ईमान है ।

ऐसे में आपको वजू करने से पहले उसकी दुआ भी पढ़नी जरूरी है । जिसके लिए आपको वजू की दुआ याद भी होनी चाहिए ।

वजू करने से पहले की दुआ के साथ साथ में आपको इस आर्टिकल wuzu ki dua में ही वजू के बाद की भी dua बताऊंगी जिससे आप सभी इन दुआओं को याद कर सकें और इन दुआओं के सदके अपने गुनाहों से पनाह ले सकें ।

हुजूर पाक सल्लाहलाहू अलायहि वसल्लम का फरमान है की जैसे ही हम वजू करते हैं तो उसके हर पानी के कतरे के गिरने पर एक गुनाह झड़ता है ।

जैसे ही आप नमाज पढ़ने का इरादा करते हैं तो आपको उसका आधा सवाब मिलता है और वजू करने पर उसका आधे से ज्यादा , नमाज अदा करने पर पूरा पूरा सवाब मिलता है

wuzu ki dua :

वजू करने से पहले आपको नियत करनी जरूरी होती है । जैसा की मेने आपको पहले भी बताया है की अल्लाह ताला आपको नियत का भी सवाब देता है ।

नियत करने के बाद आपको पूरी बिस्मिल्लाह पढ़कर वजू करने या वजू से पहले की दुआ wazu se pehle ki dua पढ़नी है ।

पूरी बिस्मिल्लाह है auzubillahi minashaitan nazeem bismillahi arrahmaan irraheem

इसका तर्जुमा होता है की “में शुरू करता हूं अल्लाह के नाम से जो बड़ा मेहरबान और रहम वाला है “ ।

इसके बाद पहला कालिमा पढ़ें । पढ़ने के बाद wuzu ki dua पढ़ें ।

इसके बाद ये Wuzu Ki Dua पढ़ें :

wuzu ki dua in arabic

तर्जुमा :

wazu ki dua ka tarjuma

Wuzu Ki Dua in Hindi :

निचे wazu ki dua की दुआ हिंदी में दी गई है :

wuzu ki dua in hindi

Wuzu ki Dua In English :

ये wazu karne ki dua इंग्लिश में दी गई है :

wuzu ki dua in english

wuzu karne ka tarika :

काफी लोगों को वजू करने का सही तरीका नही पता होता है । तो आप इसका सही तरीका जान कर ही वजू के लिए चलें ।

वजू का सही तरीका यह है की सबसे पहले आप अपने दोनो हाथों को अच्छे से धोएं । हाथ धोने के बाद तीन बार कुल्ली करें ।

कुली करते वक्त आपको ये दुआ पढ़नी है

kulli karte waqt ki dua :

कुल्ली करते वक़्त की दुआ और तर्जुमा :

kulli karte waqt ki dua

kulli karte waqt ki dua tarjuma

naak me paani daalte waqt ki dua :

नाक को नर्म हड्डी तक पांज पहुंचाने के बाद आपको तीन मर्तबा मुंह धोना है ।

मुंह धोते वक्त ये दुआ पढ़ें :

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! तू उस दिन मेरे चेहरे को चमका देना जिस दिन कुछ चेहरे चमकते होंगे और कुछ सियाह होंगे ।

muh dhote waqt ki dua :

नाक को नर्म हड्डी तक पांज पहुंचाने के बाद आपको तीन मर्तबा मुंह धोना है ।

मुंह धोते वक्त ये दुआ पढ़ें ;

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! तू उस दिन मेरे चेहरे को चमका देना जिस दिन कुछ चेहरे चमकते होंगे और कुछ सियाह होंगे ।

Hath Dhote Waqt ki Dua हाथ धोते वक्त की दुआ :

मुंह धोने के बाद आपको तीन तीन मर्तबा कोहनियों तक हाथ धोने हैं ।

Dahine Hath Dhote Waqt ki Dua दाहिने हाथ कोहनियों तक धोते वक्त की दुआ

आप dahine hath dhote waqt ki dua in arabic निचे पढ़ सकते है :

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! मेरा नामआए अमाल मेरे ढैने हाथ में देना और मुझसे हिसाब में आसानी फरमाना ।

बहाने हाथ की कोहनी धोते वक्त ये दुआ पढ़ें :

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! मेरा नामआए अमाल मेरे बहाने हाथ में न देना और न ही पीठ पीछे देना । और हिसाब में आनी फरमाना ।

सर का मसा करते वक्त की दुआ :

कोहनियों तक हाथ धोने के बाद आपको सर का मसा करना है । सर का मसा करते वक्त ये दुआ पढ़ें ;

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! तू मुझे अपने अर्श के साए में रखना जिस दिन तेरे साए के सिवा कोई साया न होगा ।

कान का मसा करते वक्त की दुआ :

सर का मसा करने के बाद कान का मसा करें । कान के मसा के वक्त ये दुआ पढ़ें ;

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! तू मुझे उन लोगों में शुमार करदे जो लोग अच्छी बातें सुनकर इन पर अमल करते हैं ।

गर्दन का मसा करते वक्त की दुआ :

कान का मसा करने के बाद आपको गर्दन का मसा करना है । गर्दन का मसा करते वक्त ये दुआ पढ़ें ;

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! मेरी गर्दन को दोजघ की आग से महफूज रख ।

दाहिना पांव धोते वक्त की दुआ :

अब आपको दाहिने पांव को धोना है तीन मर्तबा । और ढाइने पांव को टांकनो को हड्डी तक धोना है और ये दुआ पढ़नी है ;

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! तू मेरे कदम पुल सीरत पर जमाए रखना ।

बायां पांव धोते वक्त की दुआ :

अब आपको अपना बायां पांव धोना है । और उसको भी टकनों तक धोते हुए ये दुआ पढ़ें ;

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! मेरे गुनाहों को माफ फरमा , मेरी कोशिश कामयाब फरमाकर मेरी तिजारत हलाक फरमा ।

Wazu Ke Baad ki Dua वजू के बाद की दुआ :

वजू पूरी होने के बाद आपको ये wuzu ki dua पढ़नी है ।

तर्जुमा ; ए अल्लाह ! तू मुझे तौबा करने वालों और पाक लोगों में शुमार कर दे ।

Conclusion :

मैने आपको अपने इस आर्टिकल wuzu ki dua में वजू करने से पहले की दुआ को पढ़ने का तरीका और इसके साथ साथ वजू करने का तरीका भी आपको बताया है ।

जिससे की आप सही सही Wazu Karne ki Dua की तिलावत कर सकें और पाक साफ होकर अपने सभी गुनाहों से तौबा कर सकें ।

ऐसे ही दीनी और इनफोएशनल आर्टिकल्स के लिए बने रहें इसी वेबसाइट पर ।

फि अमान अल्लाह !

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

Leave a Comment