Ramzan ke Dusre Ashray ki Dua 2024

Assalamu alaikum everyone , आप सभी का एक बार फिर से बहुत-बहुत इस्तकबाल है मेरी वेबसाइट पर।

आज का हमारा मौजजा है ramzan ke dusre ashray ki dua। मैंने आप सभी को अपने पिछले आर्टिकल में रमजान के पहले अशरे की दुआ डिटेल में समझाई थी की हिंदी इंग्लिश एंड अरबी ट्रांसलेशन।

आज भी मैं आपको हिंदी इंग्लिश और अरबी तीनों में रमजान के दूसरे अशरे की दुआ बताने वाली हूं।

जिससे कि आप उसको अच्छे से पढ़ कर और समझ कर याद करके रमजान के दूसरे अशरे में ज्यादा से ज्यादा तिलावत करें।

और अल्लाह पाक से अपने सभी गुनाहों से मगफिरत मांगे और सीधे रास्ते पर चलने की तौफीक मांगे।

Ramadan Mubarak ka Mahina

रमजान के इस पाक महीने में पढ़ी जाने वाली काफी सारी मसनून दुआएं हैं जिनसे आप अल्लाह ताला से तालुकात गहरी कर सकते हैं।

और उसकी बारगाह में जाकर अपने गुनाहों से पनाह मांग सकते हैं।

रमजान एक बहुत ही मुबारक महीना है। हम मुसलमान इस महीने के लिए पूरे साल बेसब्री से इंतजार करते हैं।

रमजान के इस मुबारक महीने में हर चीज का अजर दुगना मिलता है। रमजान का यह मुबारक महीना हम सभी मुसलमान बहन भाइयों के लिए एक बहुत ही खास नेमत अल्लाह की तरफ से होती है।

रमजान अल मुबारक इस्लामिक कैलेंडर के हिसाब से ,इस्लाम में नवा महीना होता है।

यह शाबान के महीने के बाद आता है। शाबान के महीने के बारे में भी बहुत ही खास फजीलत हैं।

इसके अलावा हर महीना अपनी-अपनी खास फजीलत रखे हुए हैं। लेकिन जिस तरह का मुबारक महीना रमजान है उसे तरह का महीना कोई और नहीं।

इस महीने में हम मुसलमान बहन भाई मिलकर अल्लाह के लिए रोजे रखते हैं। उसके लिए इबादत करते हैं और सभी के लिए दुआ करते हैं।

अल्लाह ताला रमजान मैं मांगी गई किसी भी दुआ को रद्द नहीं करता है। जो बंदा रमजान की तहज्जुद को अदा करके कोई भी जायज दुआ करेगा अल्लाह पाक उसकी सभी जायज मुरादों को कुबूल फरमाएंगे।

जैसा कि आप सभी लोग जानते ही हैं कि इस्लाम के पांच पिलर्स है, जिनमें से एक पिलर रोजा है।

जो भी बंदा अल्लाह के करीब जाना चाहता है वह रोजा रखता है।

Ramzan ke Dusre Ashray ki Dua

रमज़ान काली में पढ़ी जाने वाली ramzan ke dusre ashray ki dua बहुत ही खास है।

जैसे कि मैं आपको अपने पहले आर्टिकल में बताया था कि रमजान के अशरे क्या होते हैं।

लेकिन जिसको नहीं पता उनके लिए मैं बता दूं कि पहले रोज से लेकर दसवें रोज तक पहला अशरा होता है।

11वीं रोज़े से लेकर 20 वे तक दूसरा अशरा होता है जिसमें यह इस आर्टिकल में बताई जाने वाली दुआ पढ़ी जाती है और अपने अखलाक और सीधे रास्ते पर चलने के लिए दुआ की जाती है।

Ramazan ke teesray ashray और आखिरी अशरफ 21 में रोज़े से लेकर 30 वे रोज़े तक होता है।

ramzan ke dusre ashray ki dua in arabic

रमजान करीम के दूसरे अशरे ya khe ramzan ke dusre din ki dua अरबी में कुछ इस तरह है :

ramzan ke dusre ashray ki dua in arabic

ramzan ke dusre ashra ki dua in hindi :

रमज़ान हमें दूसरे एचडी में यानी 11 रोज़े से लेकर 20 विरोेजे तक पढ़े जाने वाली दुआ हिंदी में इस तरह से है :

ramzan ke dusre ashra ki dua in hindi

ramzan ke dusre ashre ki dua in english

रमज़ान के दूसरे ईशरे की दुआ इंग्लिश में कुछ इस तरह होती है:

ramzan ke dusre ashre ki dua in english

ramzan ke dusre ashray ki dua ka tarjuma

रमज़ान के दूसरे हिस्से में पढ़े जाने वाली यह बहुत ही बेहतरीन और असरदार दुआ मानी जाती है।

अल्लाह पाक की दरगाह में जो भी इस दुआ को पढ़कर अपने लिए दुआ करता है अल्लाह इसकी जरुर मगफिरत फरमाता है।

दुआ का तर्जुमा कुछ इस तरह ;

मैं अपने सभी गुनाहों से अल्लाह से तौबा करता हूं या करती हूं और उसकी और जाता या जाति हूं।

conclusion

तो यह था आज का हमारा आर्टिकल ramzan ke dusre ashray ki dua जिसमें मैंने आपको ramzan ke dusre ashre ki dua पढ़ने के तरीके को तीन-तीन भाषाओं में बताया है।

और तर्जुमा भी आपको बताया है ताकि आप उसको अच्छे से समझ कर और उसकी गहराई को जानकर दुआ कर सके। अगर आप हमारे इस आर्टिकल ramzan ke dusre ashray ki dua के बारे कुछ भी जाना चाहते है तो हमे कमेंट कर सकते है।

ऐसे ही देनी तालीम के लिए बने रहे मेरी साइट पर। दुआओं में याद रखें।

फि अमान अल्लाह !

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

2 thoughts on “Ramzan ke Dusre Ashray ki Dua 2024”

Leave a Comment