आयतल कुर्सी इन हिंदी | Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi

Assalamualaikum, आज के इस आर्टिकल में आप जानेंगे Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi और इस सूरत के बारे में डिटेल्स ।

Ayatul kursi एक बहुत ही खास सूरत है । इस अयातुल कुर्सी के कई बड़े फायदे और फजीलत हैं ।

ayatul kursi से रिलेटेड सभी डिटेल्स आपको इसी आर्टिकल में आज देने वाली हूं इसलिए आप आर्टिकल को लास्ट तक पढ़िए।

Ayatul Kursi ke Mayne :

नबी करीम सल्लाल्हु अलायिहि वसल्लम ने हजरत उबेब राजियाल्लाहू ताला अन्हुु से सवाल किया था की कुरान मजीद की सबसे अजीम आयत कौन सी है।

तब उन्होंने जवाब दिया था कि कराने मजीद की सबसे अजीम आयात ayatul kursi है।

क्योंकि इसमें अल्लाह की बादशाहत का जिक्र होता है। अल्लाह की कुर्सी का जिक्र किया जाता है।

यह आयत हम सभी को याद दिलाती है कि अल्लाह इस पूरे जहां का मालिक है और हम मखलूक है। सारी कायनात मखलूक है और अल्लाह ताला राजिक है।

Ayatul Kursi in Arabic :

अयातुल कुर्सी अरबी भाषा में :

ayatul kursi arabic

Ayatul Kursi in Roman English :

अयातुल कुर्सी रोमन इंग्लिश भाषा में :

englishdcevieyillw= ayatul kursi

Ayatul Kursi ka Tarjuma in Hindi :

अयातुल कुर्सी का तर्जुमा हिंदी भाषा में :

ayatul kursi tarjuma ke sath

Ayatul Kursi ke Fayde :

अयातुल कुर्सी के कई अजीम फायदे । जब आप इसकी तिलावत करते हैं तो आपको इसके कई फायदे मिलते हैं जैसे की ;

जब आप हर नमाज के बाद अयातुल कुर्सी 3 मर्तबा पढ़ते हैं तो एक हदीस है कि आप अपना जन्नती मुकाम पहले से ही देख लेंगे।
कहने का मतलब है कि जो भी हर फर्ज नमाज के बाद तीन मर्तबा अयतुल कुर्सी पड़ेगा वह डायरेक्ट जन्नती होगा।

जो शख्स अयातुल कुर्सी की ज्यादा से ज्यादा तिलावत करेगा मौत की सख्ती उस पर आसान कर दी जाएगी और उसके हिसाब किताब में बहुत ही नरमी होगी।
अयातुल कुर्सी की ज्यादा तिलावत करने वाला शख्स , किसी भी जिन्नात या बुरी शय से कभी भी नुकसान नहीं पाएगा।

Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi :

Ayatul kursi पढ़ने की फजीलत के बारे में तो आप सभी ही जानते होंगे । लेकिन जो नही जानते हैं उन सभी के लिए नीचे दिए सभी पॉइंट्स हैं ;

कुरान मजीद के तीसरे पारे में एक आयत है जिसका नाम है ayatul kursi।

एक रिवायत में आता है कि सारे आसमानी कलाम का सरदार है कुरान मजीद, और कुरान की सरदार है सुरह बकारह, सुरह बकारह की सरदार है अयातुल कुर्सी।

कुरान की बहुत बड़ी अल्मा ने कहा है कि इस आयत में जहांनुमा के लिए बहुत ज्यादा खौफ है और जन्नती के लिए बहुत ज्यादा खुशहाली है।

क्यूंकि अल्ला ताला इसमें अपनी बादशाहत बार-बार बयान करते हैं इसीलिए इसको आयतल कुर्सी कहा जाता है।

Ayatul Kursi ki Tilawat :

Ayatul kursi की तियालवत आप सभी के हर चीज से हिफाजत फरमाई है । कोई भी बुरी शय आपका कुछ नही बिगाड़ सकती ।

Ayatul kursi में इतनी ताकत है की वो हर वसवसे और बुरी ताकत हो हराने का जज्बा रखती है ।

इसकी तिलावत पढ़ने वाले के दिल को मज़बूत बनाती है । और हर चीज को झेलने और उसका सामना करने की हिम्मत देती है ।

इसकी तिलावत आपके घरों में बरकत की निशानियां लाती है और अल्लाह की नेमतें भी ले आती है ।

Ayatul Kursi ka Wazifa :

वजीफे में बहुत ताकत होती है और जब आप कोई भी वजीफा दिल से करते हैं किसी जायज चीज के लिए तो अल्लाह ताला उसको जरूर कुबूलता है ।

ऐसे ही ayatul kursi के भी कई वजीफे हैं । जिनमे से खास ये हैं :

Akhirat ke Liye :

अगर आप अपनी अखिरात सवारना चाहते हैं तो आप ये वजीफा कर सकते हैं और जन्नत के परमानेंट हकदार बन सकते हैं ।

कहने का मतलब ये है की जब कोई भी बंदा रोजाना इस ayatul kursi के वजीफे को करता है तो अल्लाह फरमाता है की तेरे और जन्नत के बीच बस मौत का फासला रह गया ।

ये ऐसा पावरफुल वजीफा है जिससे की आप जन्नती बन सकते हैं । इसमें आपको सबसे पहले पांचों वक्त की नमाज पढ़ने जरूरी है ।

हर नमाज के बाद जनमाज पर बैठ कर तीन मर्तबा ayatul kursi पढ़ें और अल्लाह से इस नियत से दुआ करें की वो आपको जन्नत में आला मुकाम फरमाए।

Barkat or Hifazat ke Liye :

एक और इसका पावरफुल वजीफा बरकत और हिफाजत के लिए है । जब भी आपको अपने घर की हिफाजत करनी हो या फिर आप चाहें की आपके घर और घर वालों की तरफ कोई बुरी बला न आए तब आप यह वजीफा कर सकते हैं ।

और मेरी माने तो रोजाना इस वजीफे को दोहराएं जिससे हमेशा के लिए आपके घर से बालाएं टली रहें ।

इस वजीफे में आपको सोने से पहले तीन या फिर सात मर्तबा ayatul kursi पढ़ना है और फिर तीन मर्तबा ही इतनी ज़ोर से ताली मारनी की पूरे घर के हर कोने में उसकी आवाज पहुंच जाए ।

इससे आपके घर की सभी आफतें दूर रहेंगी । और बरकत भी होगी।

Ayatul Kursi ka Naksha :

ayatul kursi ka naksha घर के लिए बहुत ही बरकत और हिफाजत वाला होता है ।

जो भी शख्स अपने घर में इस नक्श को लगता है उसके घर से सभी आफ्तें और बालाएं टली रहती हैं ।

इसी के साथ साथ इस नक्शे की वजह से ही आपकी और आपके घर वालों की हिफाजत बरकरार रहती है ।

किसी भी तरह की बला या फिर बुरी चीज आपके घर के आस पास भी नहीं भटक सकती है ।

और तो और आपके घर में बरकत और आपके कारोबार में तरक्की होने लगती है ।

इस नक्शे को जरूर लगाएं ;

FAQ :

Ayatul kursi Quran ki konsi ayat hai?

अयतुल कुर्सी कुरान शरीफ की 255 नंबर की सुरा है।

Ayatul kursi konse pare me hai?

Ayatul kursi Quran मजीद के तीसरे पारे में है ।

Ayatul kursi konsi surah me hai ?

Ayatul kursi सुरा बकरा में है ।

Conclusion :

उम्मीद है की इस आर्टिकल Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi में बताई गई सभी ट्रांसलेशन और सूरत आपकी समझ आ गई होंगी और अब आप इसको आसानी से याद आकार पाएंगे ।

इस आर्टिकल Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi में आपको Ayatul kursi से रिलेटेड सभी चीजों के बारे में बताने की कोशिश की गई है ।

ऐसे ही और आर्टिकल्स के लिए बने रहे इस वेबसाइट पर , अगर आप इस आर्टिकल Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi से रेलटेड कुछ पूछना चाहते है तो मुझे कमेंट करके पूछ सकते है।

फि अमान अल्लाह !

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

2 thoughts on “आयतल कुर्सी इन हिंदी | Ayatul Kursi Ki Fazilat in Hindi”

Leave a Comment