Full Ayatul Kursi Hindi Mai | आयतुल कुर्सी हिंदी में

Assalamualaikum, में आपके लिए एक बहुत ही खास आर्टिकल Full Ayatul Kursi Hindi Mai लेकर आई हूं जिसमें हम जानेंगे कि Full Ayatul Kursi Hindi Mai और इसकी फजीलत क्या है ।

ayatul kursi इन हिंदी इंग्लिश और अरबी ट्रांसलेशन में भी बताऊंगी जिससे कि आप उसको अच्छे से समझ सके और इसका तर्जुमा भी मैं आपको इसी आर्टिकल में दूंगी।

ayatul kursi बहुत ही खास आयतों में से एक है । और वाकई यह बहुत बड़ी फजीलत रखने वाली आयत है। इसीलिए अयातुल कुर्सी की तिलावत रोज करनी चाहिए।

अयातुल कुर्सी से रिलेटेड सभी डिटेल्स आपको इसी आर्टिकल में आज देने वाली हूं इसलिए आप आर्टिकल को लास्ट तक पढ़िए।

Ayatul Kursi ko Ayatul Kursi Kyon Kahate Hain :

नबी Nabi Kareem sallallahu alaihi wasallam ने हजरत उबेब राजियाल्लाहू ताला अन्हुु से सवाल किया था की कुरान मजीद की सबसे अजीम आयत कौन सी है।

तब उन्होंने जवाब दिया था कि कराने मजीद की सबसे अजीम आयात आयतुल कुर्सी है।

क्योंकि इसमें अल्लाह की बादशाहत का जिक्र होता है। अल्लाह की कुर्सी का जिक्र किया जाता है।

यह आयत हम सभी को याद दिलाती है कि अल्लाह इस पूरे जहां का मालिक है और हम मखलूक है। सारी कायनात मखलूक है और अल्लाह ताला राजिक है।

Ayatul Kursi :

आप सभी की सहायता के लिए मैंने इस सूरह Ayatul Kursi को सभी भाषा में दिया है जिसको आप निचे पढ़ सकते है।

Ayatul Kursi in Arabic :


अयातुल कुर्सी अरबी भाषा में ;

ayatul kursi arabic

Full Ayatul Kursi Hindi Mai :

आयतुल कुर्सी हिंदी में

ayatul kursi hindi

Ayatul Kursi in Roman English :

अयातुल कुर्सी रोमन इंग्लिश भाषा में :

ayatul kursi roman english

Ayatul Kursi in English :

अयातुल कुर्सी इंग्लिश भाषा में :

ayatul kursi english

Ayatul Kursi ka Tarjuma in Hindi :

अयातुल कुर्सी का तर्जुमा हिंदी भाषा में :

ayatul kursi tarjuma

Ayatul Kursi Ki Fazilat :

कुरान मजीद के तीसरे बारे में एक आयत है जिसका नाम aayatal kursi है ।

एक रिवायत में आता है कि सारे आसमानी कलाम का सरदार है कुरान मजीद, और कुरान की सरदार है सुरह बकारह, सुरह बकारह की सरदार है अयातुल कुर्सी।

कुरान की बहुत बड़ी अल्मा ने कहा है कि इस आयत में जहांनुमा के लिए बहुत ज्यादा खौफ है और जन्नती के लिए बहुत ज्यादा खुशहाली है।

क्यूंकि अल्ला ताला इसमें अपनी बादशाहत बार-बार बयान करते हैं इसीलिए इसको आयतल कुर्सी कहा जाता है।

Ayatul Kursi Padhne ke Fayde in Hindi :

जब आप अयातुल कुर्सी पढ़ते हैं तो इसके बहुत सारे फायदे आपको मिलते हैं , जब आप हर नमाज के बाद अयातुल कुर्सी 3 मर्तबा पढ़ते हैं तो एक हदीस है कि आप अपना जन्नती मुकाम पहले से ही देख लेंगे।
कहने का मतलब है कि जो भी हर फर्ज नमाज के बाद तीन मर्तबा अयतुल कुर्सी पड़ेगा वह डायरेक्ट जन्नती होगा।

जो शख्स अयातुल कुर्सी की ज्यादा से ज्यादा तिलावत करेगा मौत की सख्ती उस पर आसान कर दी जाएगी और उसके हिसाब किताब में बहुत ही नरमी होगी।
अयातुल कुर्सी की ज्यादा तिलावत करने वाला शख्स , किसी भी जिन्नात या बुरी शय से कभी भी नुकसान नहीं पाएगा।

Ayatul Kursi Powerful Wazifa :

वैसे तो aital kursi से रिलेटेड काफी सारे वजीफा हैं लेकिन हर फर्ज नमाज के बाद अयातुल कुर्सी पढ़ने का एक खास वजीफा है,

जिसका फायदा आपको यह होगा कि आपके और जन्नत के दरमियान सिर्फ मौत का पर्दा रहेगा।

यानी जो भी शख्स रोजाना हर फर्ज नमाज के बाद तीन या सात मर्तबा ayatal kursi पड़ता है ,

या फिर ज्यादा से ज्यादा ayat ul kursi की तिलावत करता है तो उसके मरते ही वह जन्नती होगा इंशाल्लाह ।

FAQ :

Ayatul Kursi Kisliye Hoti Hai ?

Aytal kursi सभी से हिफाजत और अल्लाह की रहमत के लिए होती है ।

Ayatul Kursi Kab Padhen?

Ayat kursi को हर फर्ज नमाज के बाद 3 मर्तबा पढ़ें । ओर पूरे दिन किसी भी वक्त ज्यादा से ज्यादा तिलावत करें ।

Ayatul Kursi Konse Paare Me हैं ?

Ayatul kursi तीसरे पारे में , surah bakrah की आयात है ।

Conclsuion :

आज के आर्टिकल Full Ayatul Kursi Hindi Mai में मैंने आप सभी के लिए एक डिटेल्ड कंटेंट दिया है जोकि atal kursi से रिलेटेड है ।

उम्मीद करती हु की आप सभी के ये surah समझ आ गई होगी । अगर आपका इस आर्टिकल Full Ayatul Kursi Hindi Mai से रेलेटेड कोई भी सवाल हे तो मुझे कमेंट कर सकते है।

ऐसे ही आर्टिकल्स के लिए बने रहे मेरी वेबसाइट iftarkidua.com पर ।

फि अमान अल्लाह !

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

2 thoughts on “Full Ayatul Kursi Hindi Mai | आयतुल कुर्सी हिंदी में”

Leave a Comment