Dua e Qunoot in Hindi | दुआ ए कुनूत हिंदी में

Assalamualaikum, आज आपके साथ करेंगे Dua e Qunoot in Hindi जोकि वितर नमाज में पढ़ी जाती है।

यह दुआ काफी खास फजीलत रखने वाली दुआ है । आज इस आर्टिकल के जरिए से आपको बताऊंगी की इस दुआ को पढ़ने के फायदे क्या क्या हो सकते हैं ।

ओर इस दुआ से आप किस काम या किस दुआ के मकसद से पढ़ सकते हैं ।और इसी दुआ के कई ट्रांसलेशन भी आपको इसी आर्टिकल में मिलेंगे । इसलिए आर्टिकल को लास्ट तक पढ़ें ।

Dua e Qunoot :

मैंने dua e qunoot को निचे सभी भाषा में बताया है जिसको आप अपने सहूलियत के अनुसार पढ़ सकते है , इस दुआ के बाद मैंने इसकी फ़ज़ीलत , फायदे और अगर ये दुआ याद न हो तो क्या पढ़ा चाहिए सब बताया है इसीलिए आर्टिकल को लास्ट तक पढ़े।

Dua e Qunoot in Arabic :


dua e qunoot अरबी में :

dua e qunoot in urdu

Dua e Qunoot in Roman English :


dua e qunoot रोमन इंग्लिश में :

dua e qunoot roman english

Dua e Qunoot in English :


dua e qunoot इंग्लिश में :

dua e qunoot english

Dua e Qunoot in Hindi :


Dua e Qunoot in Hindi :

dua e qunoot hindi

Dua e Qunoot ka Tarjuma in Hindi


dua e qunoot का तर्जुमा ये है :

dua e qunoot in hindi tarjuma

Dua e Qunoot ki Fazilat :

दुआ ए कुनूत पढ़ने की बहुत बड़ी और खास फजीलत मानी जाती है। यह खास दुआ इसलिए है क्योंकि जब अल्लाह ताला ने खुद इस दुआ को नमाज के लिए मुकद्दर कर दिया है,

कि यह वितर नमाज में पढ़ी जाएगी तो इससे बड़ी फजीलत किसी दुआ की क्या हो सकती है कि जब उसको नमाज में अल्लाह ताला ने मुकर्रर कर दिया हो।

Dua e Qunoot kab Padhi Jaati Hai :

दुआ ए कुनूत को ईशा की नमाज में वितर में पढ़ा जाता है यह तो हम सभी को मालूम है।

लेकिन कई लोगों का सवाल यह भी रहता है कि क्या हम इस दुआ को अलग से अपनी दुआओं में शामिल कर सकते हैं?

तो मैं आपको बता दूं कि इस चीज की भी इजाजत है कि आप इस दुआ को वितर के अलावा भी अपनी दुआओं में शामिल कर सकते हैं।

Dua e Qunoot kis Pare Mein Hai :

कई लोग इस चीज में कंफ्यूज है की दुआ ए कुनूत कौन से पारे में है। मैं आपको बताना चाहूंगी कि कुरान ए पाक में दुआ ए कुनूत मेंशन नहीं की गई है।

यह हमारे नबी हुजूर पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की सुन्नत है और उन्हीं से यह दुआ आई है।

Dua e Qunoot Yaad na Ho to Kya Padhe :

ऐसा कई लोगों के साथ होता है कि उनको दुआएं को नोट याद नहीं होती है तो उनके मन में सवाल आता है की दुआएं कुनूत के अलावा भी क्या वितर में कुछ पढ़ सकते हैं?

तो इसका जवाब यह है कि जब आपको दुआ ए कुनूत याद ना हो तो आप वित्र नमाज़ में दुआ ए कुनूत की जगह सूरह इखलास यानी के कुल्लू अल्लाहू अहद पढ़ सकते हैं।

ऐसा नहीं है कि सिर्फ सूरह इखलास ही पढ़ सकते हैं लेकिन वितर में dua e qunoot की जगह सूरह इखलास पढ़ने की फजीलत ज्यादा है।

दुआ ए कुनूत याद ना हो तो क्या पढ़े ?

FAQ:


Dua e Qunoot kab Parhi Jati Hai ?

दुआ ए कुनूट वितर नमाज में पढ़ी जाती है ।

Dua e Qunoot ki Jagah Kya Padh Sakte Hain?

अगर दुआ ए कुनूत याद ना हो तो आप सूरह इखलास पढ़ सकते हैं।

Kya Dua e Qunoot ko Vitr ke Alawa Padh Sakte Hai?

हां, दुआ ए कुनूत को आप और दुआओं में भी शामिल कर सकते हैं ।

Conclusion :

इस आर्टिकल में बताए गए Dua e Qunoot in Hindi के ट्रांसलेशन आपको समझ आ गई होंगे।

इसी के साथ-साथ दुआएं को दूध की कुछ खास बातें भी इसी आर्टिकल Dua e Qunoot in Hindi में बताई गई है उम्मीद है कि वह सब भी आपकी समझ आ गई होगी।

ऐसे ही इस्लामी और इनफॉरमेशन आर्टिकल्स के लिए बने रहे इसी वेबसाइट iftarkidua पर।

Dua e Qunoot in Hindi

फि अमान अल्लाह!

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

1 thought on “Dua e Qunoot in Hindi | दुआ ए कुनूत हिंदी में”

Leave a Comment