Sehri ki Dua Hindi | Sehri ki Dua

Assalamualaikum, रमजान के इस खास मौके पर में आप सभी के साथ शेयर करूंगी sehri ki dua ।

रमज़ान एक बहुत ही खास महीना होता है । रमज़ान में रोज रखने वाला अल्लाह को बेहद पसंद होता है ।

रोज़े रखने की दुआ के बारे में आज हम इस आर्टिकल के जरिए जानेंगे ।

sehri ki dua जो की सेहरी खाने के बाद और फज्र की अज़ान से पहले सेहरी की नियत करके पढ़ी जाती है , इसके तीन ट्रांसलेशन यानी तीन भाषाओं में यह दुआ आपको इस आर्टिकल में मिलेगी ।

इससे पहले में आपको रोज़े रखने के कुछ खास फायदे बताऊंगी जिससे आपकी बॉडी टॉक्सिक फ्री होगी

roze rakhne ke fayde in hindi :

रमजान में रोजा रखने का सबसे पहले और बड़ा फायदा यह है कि आप अल्लाह के करीब और नेक बंदों में से एक होते हैं।

रोज़ा रखने से आपकी रूहानी ताकत बढ़ जाती है और
आप एकदम तारों ताज़ा हो जाते हैं ।

आपकी फिजिकल फिटनेस बढ़ती है ।

आपका वजन काफी कम होता है ।

आपकी मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ती है ।

यदि कोई ब्लड प्रेशर का मरीज रोजा रखता है तो उसकी ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है ।

यदि कोई शुगर का पेशेंट हो तो उसकी शुगर भी कंट्रोल रहती है।

इम्यून सिस्टम बूस्ट रहता है ।

sehri ki dua in arabic :

Sehri ki dua in arabic text उनके लिए जो अरबी में पढ़ते हैं तो वो कुछ इस तरह है :

sehri ki dua in urdu

sehri ki dua in hindi :

Roza sehri ki dua in hindi हिंदी में कुछ इस तरह से होगी :

sehri ki dua hindi me

sehri ki dua in english :

जो लोग इंग्लिश में पढ़ना चाहते है या फिर सेहरी की दुआ इंग्लिश में किस तरह से लिखी जाएगी तो , वह कुछ ऐसे होगी

niyat sehri ki dua in english

sehri ki dua ka tarjuma :

sehri ki dua एक तरह से रोज़े की नियत करना और उसको मुकम्मल करने की दुआ करना है ।

सेहरी करने की दुआ का तर्जुमा यह है ;

में कल के लिए इस रमजान के महीने में रोजा रखने की नियत करता हूं ।

sehri ki dua ka tarjuma english mein :

सेहरी खाने की दुआ का तर्जुमा इंग्लिश में कुछ इस तरह से है ;

I intended to fast for tomorrow in the month of Ramadan .

ramzan hadees :

रमज़ान का बेहतरीन महीना और उसमे रोज रखना ।

रोज रखने की फजीलत तो काफी ज्यादा बड़ी है लेकिन अगर में नॉर्मली बात करू तो एक इंसान रमदान के रोज़े रख कर कुछ इस तरह से पाक हो जाता है जिस तरह से एक नया पैदा हुआ बच्चा होता है ।

अल्लाह से मुलाकात होना ।

सोचिए वो भी क्या मंजर होगा जब हम सभी की roz -e akhirat अल्लाह से मुलाकात होगी ।

तो यह भी एक बहुत ही खास तौफा है अल्लाह की तरफ से की हम सब उनके सामने पेश होंगे और उनसे मुलाकात करेंगे

sehri ki dua

Conclusion :

मैने आपके इस आर्टिकल में sehri ki dua के बारे में बताया है । या फिर रोजा रखने की दुआ भी में के सकती हूं ।

उम्मीद है की sehri ki dua , तीनों भाषाओं में आपको समझ आ गई होगी । ओर इसके साथ साथ तर्जुमा भी समझ आ गया होगा । iftar ki dua के लिए आप ये आर्टिकल पढ़ सकते है।

ऐसे ही दीनी आर्टिकल्स के लिए बने रहें ।

फि अमान अल्लाह !

दीन की बाते शेयर करना सदक़ा ए जारिया है , शेयर ज़रूऱ करे।

Assalamualaikum , आप सभी का स्वागत है मेरी वेबसाइट पर जिसका नाम है www.Iftarkidua.com । यहां पर आपको इस्लाम से जुड़ी ज्यादातर सभी जानकारियां दी जायेंगी । में आपको अपनी इस इस्लामिक साइट पर दीन से जुड़ी और हमारे इस्लाम से जुड़ी जानकारियां और इसके साथ साथ सभी दुआओं का विर्द करना क्यों जरूरी है और जिसको दुआएं याद नही उसके लिए भी हिंदी ट्रांसलेशन और के साथ दी जायेंगी

Leave a Comment